दीपक यादव को जनसेवा की लगन ने दिलाया एक अलग मुक़ाम,लोगो के लिए बने प्रेरणा

कहते हैं ना रास्तों में कितनी भी रुकावट क्यों ना हो अगर आप के हौसले बुलंद है तो आपको मंजिल पाने से कोई नहीं रोक सकता। भारत देश में अरबों की जनसंख्या में से ऐसे कुछ ही लोगो होते है जो अपने टैलेंट और अपनी ज़िद से अपनी पहचान लिखते हैं। अपना एक सुनहेरा इतिहास लिखते हैं। उन्हीं शख्स में से एक शख्स के बारे में आज हम आपको बताने जा रहे हैं जो उत्तराखंड के काशीपुर में जन्मे है। जिन्होंने अपनी ज़िद और अपने हौसलों के आगे किसी मजबूरी परेशानी को टिकने नही दिया।

हम बात कर रहे हैं।23 दिसंबर 1996 को काशीपुर में जन्मे दीपक यादव की , दीपक यादव का जन्म एक साधारण परिवार में हुआ था, पिताजी सूर्य रौशनी लिमिटेड,काशीपुर उत्तराखंड में काम करते थे। दीपक यादव की स्कूली शिक्षा काशीपुर के मोटेश्वर मंदिर के पास स्थित तुलाराम राजाराम सरस्वती विद्या मंदिर में हुई। बचपन से ही दीपक यादव के अंदर लोगों की मदद करने का जुनून था। पर गरीबी के आगे लाचार बेबस होने के सिवा कोई और रास्ता नहीं था। लेकिन लोगों की मदद की चाहत में दीपक यादव ने स्कूली शिक्षा के दौरान ही राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की शाखा में जाना शुरू किया।पढ़ाई के साथ साथ आस-पास क्षेत्र के लोगों की मदद करना दीपक यादव को उनकी मंजिल की ओर बढ़ाने लगा। सन 2008 में गट नायक,उसके बाद कई पदों पर जैसे गणशिक्षक, मुख्य शिक्षक, शाखा कार्यवाह तथा विभिन्न दायित्वों पर रहे।

RSS (राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ) के उसके बाद 2011 में संयम शारीरिक प्रमुख, काशीपुर में रहे। उसके बाद 2012 में गदरपुर,जिला -उध सिंघ नगर विद्यार्थी विस्तारक(संघ प्रचारक ) के रूप में काम किया 2013 में जसपुर – नगर प्रचारक 2014 में रामनगर 2015 -2016 में बागेश्वर, नगर प्रचारक पांच साल इसी तरह से विद्यार्थी विस्तारक, और प्रचारक के रूप में काम किया । फिर 2017 में विधानसभा चुनाव में – वर्तमान मा० मुख्यमंत्री त्रीवेंद्र सिंह रावत के साथ भी सहयोगी के रूप में काम किया। उसके बाद 2017 से मा ० शिवप्रकाश जी ( राष्ट्रीय सह महामंत्री संगठन ) उनके साथ निजी सचिव के नाते भी कार्य किया।2019 में प्रयागराज में होने वाले वैचारिक कुंभ कार्यालय प्रभारी के रूप में कार्य किया।दिशा दर्शन देने वाले शिवप्रकाश(राष्ट्रीय सह महामंत्री संगठन)भाजपा, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ वैचारिक कुंभ में कार्य किया। शिवप्रकाश के आशीर्वाद से वर्तमान में भारत सरकार के गृह मंत्रालय में कार्यरत हैं। स्कूली शिक्षा पूरी होने के बाद दीपक यादव की नौकरी गृह मंत्रालय लग गई जिसके बाद दीपक यादव ने लोगों की और भी खुलकर मदद करनी शुरू कर दी, लॉकडाउन के समय दीपक यादव ने लोगों को घर-घर राशन पहुंचाएं, इतना ही नहीं गरीब घर की कन्याओं की शादी में भी दीपक यादव ने काफी योगदान किया। समय-समय पर दीपक यादव लोगों की मदद करते हुए दिखाई देते हैं। हाल ही में दीपक यादव ने देहरादून में फुटपाथ पर सो रहे लोगों को पुलिस टीम के साथ कंबल वितरण किए।

Author: TheBharat Times

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *