बिजनौर मे भ्रूण परीक्षण का खेल हुआ उजागर,अस्पताल सील,ऐसे हुआ अल्ट्रासाउंड सेंटर का भंडाफोड़

बिजनौर जिले में अल्ट्रासाउंड सेंटरों पर धड़ल्ले से भ्रूण परीक्षण का खेल चल रहा है। मगर स्वास्थ्य विभाग अंजान बना हुआ है। शुक्रवार को स्वास्थ्य विभाग ने हरियाणा की टीम के साथ मिलकर नहटौर में संचालित एक अस्पताल को सील किया। जिसमें लिंग निर्धारण की जांच का खेल चल रहा था। मगर बिजनौर स्वास्थ्य विभाग को इसकी भनक तक नहीं थी।

शुक्रवार को डिप्टी सीएमओ डॉ. देवीदास ने हरियाणा की टीम के साथ मिलकर नहटौर स्थित सीटी हॉस्पिटल में छापामारी की। यहां डेढ़ साल पहले सील की गई, अल्ट्रासाउंड मशीन भी चलती मिली। जबकि कागजों में यह मशीन आज भी सील है। सील तोड़कर मरीजों के अल्ट्रासाउंड किए जा रहे थे।

मिली जानकारी के मुताबिक, हरियाणा के अंबाला की एक महिला ने एक अगस्त को सिटी हॉस्पिटल में लिंग निर्धारण की जांच कराई। इसके बाद मामले की सूचना हरियाणा डिप्टी सीएमओ डॉ. बी सोढी ने बिजनौर स्वास्थ्य विभाग को दी। इसके बाद अब शुक्रवार को 10 सदस्य टीम ने अल्ट्रासाउंड सेंटर सील किया। जिस महिला की एक अगस्त को लिंग निर्धारण की जांच गई। उसने कार्रवाई के दौरान बताया कि उसका अल्ट्रासाउंड किस कमरे में किया गया था। जिसके बाद पुलिस ने मौके से अस्पताल प्रबंधक को गिरफ्तार कर लिया।


हरियाणा टीम की महिला ने पहले की थी रेकी


मिली जानकारी के मुताबिक जिस महिला का नहटौर के सिटी हॉस्पिटल में अल्ट्रासाउंड किया गया। वह हरियाणा के अंबाला की रहने वाली है। जिससे वहां के स्वास्थ्य विभाग ने रेकी के लिए हायर किया था। रेकी करने के बाद महिला ने अपना अल्ट्रासाउंड कराया। जिसके बाद लिंग निर्धारण जांच का भंडाफोड़ हुआ।

टीम में ये लोग रहे शामिल

हरियाणा की टीम से डिप्टी सीएमओ डॉ. बी सोढी, मेडिकल अफसर, जांच कराने वाली महिला, दो पुलिसकर्मी रहे। जबकि बिजनौर से डिप्टी सीएमओ डॉ. देवीदास, दो पुलिसकर्मी, एक स्वास्थ्यकर्मी शामिल रहे।

Author: TheBharat Times

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *