जानिए आख़िर सलमान खान से किस बात का बदला लेना चाहता है गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई

गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई लगातार बॉलीवुड के दबंग खान सलमान को धमकियां दी रहा है.बता दें कि बीते दिन सलमान खान को मेल के जरिए धमकी मिली, जिसके बाद बांद्रा पुलिस ने जेल में बंद गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई, गोल्डी बराड़ और रोहित गर्ग के खिलाफ केस दर्ज किया. ईमेल में कहा गया कि गोल्डी सलमान खान से फेस टू फेस मिलकर बात करना चाहता है और मामला रफा दफा करना चाहता है, नहीं तो झटका देखने को मिलेगा.

पहली बार नहीं है जब सलमान खान को धमकी मिली हो. लॉरेंस ने हाल ही में एक न्यूज चैनल से बातचीत करते हुए भी उन्हें धमकी दी थी और कहा था कि वो माफी मांग लें, नहीं तो अहंकार को तोड़ दिया जाएगा. इतना ही नहीं पिछले साल मॉर्निंग वॉक के दौरान सलमान के पिता सलीम खान को भी एक वॉर्निंग लेटर मिला था, जिसमें सलमान के साथ-साथ उनके पिता को भी धमकी दी गई थी.

सलमान को क्यों मिल रही हैं धमकियां?

बीते साल धमकी मिलने के बाद भी पुलिस ने एक शख्स के खिलाफ मामाल दर्ज किया था. वहीं अब सलमान को ईमेल के जरिए धमकी मिली. लेकिन क्य आप जानते हैं कि सलमान को ये धमकियां क्यों मिल रही हैं और लॉरेंस बिश्नोई क्यों उनके पीछे पड़ा है. बता दें, ये मामला सलमान खान के काले हिरण का शिकार करने वाले मामले से जुड़ा हुआ है.

सलमान खान पर है ये आरोप?

साल 1999 में सलमान खान की फिल्म आई थी हम साथ साथ हैं. वहीं सलमान पर आरोप है कि साल 1998 में जब राजस्थान के कांकणणी में फिल्म की शूटिंग हो रही थी तो उस दौरान उन्होंने दो काले हिरण को मारा था. इस मामले को लेकर 2018 में सलमान को पांच साल की सजा भी हुई थी, हालांकि फिर वो जमानत पर रिहा हो गए थे.

सलमान की पीछे क्यों है लॉरेंस?

बता दें, बिश्नोई समाज में काले हिरण की काफी इज्जत की जाती है. उस समाज में ऐसी मान्यता है कि काला हिरण जम्बेश्वर भगवान का दूसरा जन्म है. वहीं वो लोग काले हिरण को उस तरह मानते हैं जैसे कोई शख्स अपने बच्चे को मानता है, उसकी हिफाजत करता है. वहीं अगर किसी ने काले हिरण का शिकार किया तो उसे बिल्कुल भी माफ नहीं किया जाएगा, बिश्नोई समाज के लोग ऐसा मानते हैं. वहीं काले हिरण के शिकार के मामले को लेकर ही लॉरेंस सलमान खान के पीछे है और उसने सलमान को माफी मांगने को कहा है.

Author: TheBharat Times

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *