भ्रष्टाचार पर कार्रवाई न होने से नाराज़ युवक ने कलक्ट्रेट में ख़ुद पर डाला पैट्रोल,समय रहते पुलिस कर्मियों ने बचाया

शादाब अली

उन्नाव कलक्ट्रेट में एक युवक ने खुद पर पेट्रोल डालकर आत्मदाह की कोशिश की। पुलिस कर्मियों ने किसी तरह उसे बचाया और अस्पताल में भर्ती कराया। युवक ने ग्राम पंचायत में भ्रष्टाचार को लेकर कई बार डीएम से मिलकर प्रार्थना पत्र दिया और जांच कराने की मांग की और हर बार ब्लॉक के अधिकारियों ने ही जांच की, जिससे युवक ने परेशान होने की बात कही है।


मियागंज ब्लॉक के ग्राम अहरा हड़िया का रहने वाला मुकेश रावत आज उन्नाव कलक्ट्रेट कार्यालय पहुंचा, जहां उसने खुद पर पेट्रोल डालकर आग लगा ली। इस दौरान मौजूद पुलिसकर्मियों ने उसे पकड़ लिया। आनन-फानन में उसे जिला अस्पताल ले गए, जहां उसका प्राथमिक उपचार शुरू किया गया। चौकी इंचार्ज समेत भारी पुलिस बल मौके पर पहुंचा।

मिलीभगत का आरोप

अस्पताल में पीड़ित ने बताया कि उसकी ग्राम पंचायत में 10 लाख रुपए से अधिक सरकारी धन का बंदरबांट किया गया है। इसको लेकर उसने डीएम से मिलकर कई बार शिकायती पत्र दिया और जांच कराने की मांग की। उच्चाधिकारियों ने ब्लाक के ही बीडीओ को जांच सौंप दी। बीडियो ने मिलीभगत कर कोई कार्रवाई नहीं की।


आरोप है कि गांव में इंडिया मार्का हैंडपंपों के नाम पर पैसा निकाला गया। स्ट्रीट लाइट के नाम पर अलग-अलग तरीके से फर्जीवाड़ा किया गया। डस्टबिन के नाम पर दो लाख का बजट जारी हुआ, लेकिन गांव में कोई डस्टबिन नहीं लगाई गई। सोलर पैनल, कूड़ा गाड़ी, सामुदायिक भवन हमीरपुर में हो रहे निर्माण कार्य मे धांधली हुई है। शिकायत के बावजूद कोई कार्रवाई नहीं हुई। इमरजेंसी वार्ड में ड्यूटी डॉक्टर ब्रजकिशोर ने बताया युवक की हालत सामान्य है

Author: TheBharat Times

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *