टीएसएच में ईडब्ल्यूएस खिलाड़ियों के प्रशिक्षण का चौथा चरण एक मार्च से शुरू

कानपुर। ‘द स्पोर्ट्स हब’ में आर्थिक रुप से कमजोर (ईडब्ल्यूएस) प्रतिभाशाली खिलाड़ियों के प्रशिक्षण का चौथा चरण एक मार्च से प्रारंभ होगा। इसके लिये खिलाड़ियों का चयन पूरी पारदर्शिता के साथ उच्चस्तरीय कमेटी करेगी। 11 इंडोर खेलों में चयनित किये जाने वाले ईडब्ल्यूएस खिलाड़ियों के प्रशिक्षण का चौथा चरण आगामी एक मार्च से टीएसएच में प्रांरभ होगा। चौथे चरण के लिये लगभग चार सौ आउटस्टैंडिंग खिलाड़ियों का चयन किया जायेगा।


यह जानकारी आज टीएसएच में हुई प्रेस कांफ्रेंस में ईडब्ल्यूएस खिलाड़ियों की चयन कमेटी के सदस्य पीके श्रीवास्तव (ट्रांसस्टेडिया के प्रतिनिधि व टीएसएच के डायरेक्टर ऑपरेशंस), जगदीश यादव (अपर नगर आयुक्त), संजीव पाठक ‘बॉबी’ (इंटरनेशनल टेबल टेनिस खिलाड़ी व अध्यक्ष-उत्तर प्रदेश टेबल टेनिस एसोसियेशन), दिवेश व्दिवेदी (सचिव- उ.प्र. एथलेटिक्स एसोसियेशन), हर्ष अग्रवाल (इंडिपेंडेंट सीए) और राजीव अग्रवाल ( प्रबंध निदेशक टीएसएच) ने संयुक्त रुप से दी।
ट्रांसस्टेडिया के प्रतिनिधि व टीएसएच के डायरेक्टर ऑपरेशंस पीके श्रीवास्तव ने बताया कि प्रशिक्षण के चौथे चरण के लिये ईडब्लयूएस खिलाड़ियों का चयन पूरी पारदर्शिता के साथ किया जायेगा। उन्होंने बताया कि बैडमिंटन, बास्केटबॉल, बॉक्सिंग, जूडो, कबड्डी, कराटे, शूटिंग, स्विमिंग, टेबल टेनिस और ताइक्वांडो आदि 11 इंडोर गेम्स में ईडब्लयूएस खिलाड़ियों को प्रशिक्षित किया जायेगा। यह प्रशिक्षण तीन माह के लिये होगा। कमेटी के सदस्यों ने बताया कि सिलेक्शन ट्रायल में भाग लेने वाले ईडब्ल्यूएस के खिलाड़ियों से किसी तरह का शुल्क नहीं लिया जाता है। यहां तक की रजिस्ट्रेशन फार्म भी निशुल्क होता है। उन्होंने बताया कि सिलेक्शन ट्रायल के लिये रजिस्ट्रेशन फार्म 12 फरवरी से मिलना शुरु हो जायेेंगे। फार्म जमा करने की अंतिम तिथि 17 फरवरी तय की गई है और 21 फरवरी से चयन की प्रक्रिया प्रारंभ होगी। आवेदक खिलाड़ियों को अभिभावक के आय प्रमाण पत्र के अलावा आधार कार्ड, पिछले खेल परिणामों का विवरण दाखिल करना होगा।
श्री श्रीवास्तव ने बताया कि पहले चरण में 262, दूसरे चरण में 288 और तीसरे चरण में 180 यानि अब तक 730 ईडब्लयूएस खिलाड़ियों को को उक्त 11 खेलों में प्रशिक्षित किया जा चुका है। प्रशिक्षित किये इन खिलाड़ियों में से राज्य और राष्ट्रीय स्तर की विभिन्न प्रतियोगिताओं में उल्लेखनीय परिणाम दिये हैं। राहुल व अभिषेक समेत छह हैंडीकैप खिलाड़ियों को एक साल की फ्री मेम्बरशिप भी टीएसएच में दी गई।। इसके अलावा टीएसएच में आयोजित हुई किसी भी प्रतियोगिता में इंट्री फीस नहीं ली गई। इस साल टीएसएच के 27 ईडब्ल्यूएस खिलाड़ियों ने विभिन्न स्टेट और नेशनल प्रतियोगिताओं में पदक जीतने का श्रेय प्राप्त किया है।


कमेटी के सदस्य संजीव पाठक ने बताया कि अर्जुन एवार्डी व ऑल इंग्लैंड चौपिंयन पी. गोपीचंद ने टीएसएच को बधाई देते हुये सराहना की ईडब्ल्यूएस खिलाड़ियों को अलग-अलग सत्रों में तीन-तीन घंटे का विशेष प्रशिक्षण भी दिया था। टीएसएच के डायरेक्टर ऑपरेशंस पीके श्रीवास्तव का कहना है कि प्रशिक्षु ईडब्ल्यूएस खिलाड़ियों की अटेंडेंस बायोमैट्रिक से होती है और उन्हें मेम्बर के साथ खेलने का मौका मिलता है। उन्होंने बताया कि महापौर व जनप्रतिनिधियों से उनके क्षेत्र के ईडब्ल्यूएस खिलाड़ियों को चयन प्रक्रिया में शामिल कराने के लिये अनुरोध किया जाता है। इसके अलावा नगर निगम के स्कूलों में टीएसएच के प्रशिक्षकों को भेजकर ईडब्ल्यूएस खिलाड़ियों की तलाश कराई जा रही है, जिससे ज्यादा से ज्यादा ईडब्ल्यूएस खिलाड़ियों को लाभ मिल सके। द स्पोर्ट्स हब में कुछ खेलों में एक से ज्यादा क्वालीफाइड प्रशिक्षक हैं। इसके अलावा टीएसएच में फिटनेस और न्यट्रिशियन एक्सपर्ट भी रखे गये हैं।
ईडब्ल्यूएस खिलाड़ियों के लिये खेल

  • बैडमिंटन
  • बास्केटबाल
  • बॉक्सिंग
  • जूडो
  • कबड्डी
  • कराटे
  • शूटिंग
  • स्विमिंग
  • टेबल टेनिस
  • ताईक्वांडो
    -कुश्ती
    टीएसएच मैनेजमेंट
Author: admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *