BJP नेताओं ने DM को भेजे चाय के पैसे,डीएम पर लगाया मुख्यमंत्री से न मिलवाने का आरोप

BJP पूर्व सांसद को सीएम योगी से नहीं मिलने दिया, गुस्से में गाजियाबाद डीएम को 12 नेताओं ने चाय का बिल भेजा है।
पूर्व सांसद डॉक्टर रमेश चंद तोमर समेत बीजेपी के 12 वरिष्ठ नेताओं को सीएम योगी आदित्यनाथ से मिलने नहीं दिया गया। साथ ही उन्होंने अपमान का मुद्दा उठाया तो डीएम ने चाय पिलाने की बात कह दी। इससे पहले उन्हें लाइन में भी खड़ा किया गया। इस घटना से नाराज़ नेताओं ने डीएम को चाय के पैसे भेज दिए।

सभी नेताओं का कहना है कि वे सभी संगठन के बुलावे पर मुख्यमंत्री योगी से मिलने प्रताप विहार स्थित गंगा वॉटर प्लांट पर पहुंचे थे। इन नेताओं का आरोप है कि अधिकारियों और बीजेपी से जुड़े कुछ नेताओं ने उन्हें मुख्यमंत्री के जाने के दौरान निकलने वाले स्थान पर लाइन में लगने के लिए कह दिया। इससे यह नेता नाराज़ हो गए और विरोध जताकर मुख्यमंत्री से बिना मिले ही लौट आए।

इन नेताओं का कहना है कि उन्होंने जब डीएम से इस पर नाराजगी जताई और इसे वरिष्ठ नेताओं का अपमान बताया, तो डीएम ने यह कह दिया कि आपको पूरा सम्मान दिया और आपको चाय भी पिलाई। इस पर एक नेता ने कहा कि चाय पिलाई तो उसके पैसे ले लो। बाद में इन 12 नेताओं ने एक लेटर लिखकर डीएम को 50 रुपये प्रति चाय के हिसाब से 600 रुपये और 100 रुपये अतिरिक्त मिलाकर कुल 700 रुपये लेटर के साथ भेज दिए। ये रुपये डीएम कैंप ऑफिस में भेजे गए। हालांकि वहां इसे लेने से इनकार कर दिया गया। अब इन नेताओं का कहना है कि वह डाक के जरिए रुपये भिजवाएंगे।

हालांकि मामले को लेकर डीएम राकेश कुमार सिंह का कहना है कि प्रशासन ने सभी नेताओं को सम्मान दिया था। संगठन के लेटर पर केवल सीएम की विदाई के दौरान उपस्थित रहने के लिए ही इन नेताओं को पास भी जारी हुआ था। इनके पास उनसे मिलने और मीटिंग का पास नहीं था। जहां तक इन नेताओं की ओर से रुपये भेजने का मामला है तो उन्हें इस बारे में जानकारी नहीं है।

प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शनिवार को प्रताप विहार स्थित जल निगम की गेस्ट हाउस में आए थे। देर शाम को वे जनप्रतिनिधियों सांसद, विधायक, मेयर समेत कई अन्य नेताओं से मिलते रहे। इस दौरान उन्होंने अधिकारियों से भी विकास कार्यों पर मंत्रणा की। बताया गया कि महानगर संगठन की ओर से जिले के 20 वरिष्ठ को फोन कर सुबह 9:30 बजे मुख्यमंत्री से मिलने के लिए आमंत्रित किया था। बाद में इन नेताओं को 9 बजे तक पहुंचने का आग्रह किया गया। इसके लिए बाकायदा नेताओं के कमिश्नरेट से पास तक बनवाए गए थे।

इनमें 12 नेता जिनमें पूर्व सांसद डॉक्टर रमेश चंद तोमर, पूर्व विधायक रूप चौधरी, कृष्णवीर सिरोही, प्रशांत चौधरी, प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य पृथ्वी सिंह, पवन गोयल, प्रदेश संयोजक सदस्यता अभियान अजय शर्मा, पूर्व महानगर अध्यक्ष विजय मोहन, अनिल स्वामी, वीरेश्वर त्यागी, राजेंद्र त्यागी और सरदार एसपी सिंह शामिल थे।

Author: admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *