महिला दरोगा 5 हजार की रिश्वत लेते गिरफ्तार,दागदार हुई खाकी

इस्लाम सलमानी

ठाकुरद्वारा थाना डिलारी में एंटी करप्शन ब्यूरो की टीम ने एक महिला दरोगा को 5 हजार रुपये की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों अरेस्ट किया है। एंट्री करप्शन की टीम ने ट्रैप की ये कार्रवाई मुरादाबाद के डिलारी थाने में की है। आरोप है कि दहेज उत्पीड़न और तीन तलाक के एक मामले में धाराएं कम करने की एवज में महिला उपनिरीक्षक ने 25 हजार रुपये की घूस मांगी थी।

एंटी करप्शन के डिप्टी एसपी मोहम्मद फाजिल सिद्दीकी ने बताया कि डिलारी थाने में तैनात महिला एसआई पिंकी शर्मा को 5000 रुपए रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ा गया है। महिला दरोगा ने ये रिश्वत थाने के भीतर स्थित कार्यालय में ली थी। टीम ने उन्हें अरेस्ट कर लिया है।

महिला दरोगा के खिलाफ डिलारी थाने में ही भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम की धाराओं के तहत एफआईआर दर्ज कराई जा रही है। एंटी करप्शन ब्यूरो के डिप्टी एसपी मोहम्मद फाजिल सिद्दीकी ने बताया कि डिलारी थाने के गांव बढेरा निवासी हसमत अली ने एंटी करप्शन ब्यूरो ऑफिस पहुंचकर दरोगा द्वारा रिश्वत मांगे जाने की शिकायत की थी। हसमत का आरोप था कि तीन तलाक और दहेज उत्पीड़न के एक मामले में धाराएं कम करने की एवज में महिला दरोगा उससे 25 हजार रुपये की मांग कर रही
है।

टीम हसमत को केमिकल लगे 5000 रुपये के नोट देकर डिलारी थाने पहुंची। हसमत ने थाने के दफ्तर में बैठी महिला एसआई को जैसे ही पांच हजार रुपये निकालकर दिए तुरंत एंटी करप्शन ब्यूरो की टीम ने महिला एसआई पिंकी शर्मा को पकड़ लिया। इससे थाने में खलबली मच गई। उधर, इस मामले में हसमत अली ने बताया कि डिलारी थाना क्षेत्र के गांव चक्काली में उसकी बहन आयशा की शादी हुई है। आयशा के घर के पास में ही हसमत के गांव की हरुनिया की भी शादी हुई है। हसमत अली ने बताया कि कुछ दिन पहले हरुनिया के बेटे की पत्नी ने डिलारी थाने में अपने पति और ससुरालीजनों के खिलाफ दहेज उत्पीड़न, मारपीट और तीन तलाक देने की धाराओं में एफआईआर दर्ज करा दी थी। इस एफआईआर में उसका (हसमत अली) का भी नाम लिखवा दिया गया। हसमत अली का कहना है कि एफआईआर में नाम है वो हसमत पुत्र बशीर निवासी मुस्तफापुर है। जबकि उसका पूरा नाम हसमत अली पुत्र सिद्दीक निवासी बढेरा है। हसमत का आरोप है कि उसने दरोगा पिंकी शर्मा को आधार कार्ड देकर ये समझाने की कोशिश की थी। लेकिन वो नाम निकालने की एवज में 25 हजार रुपयों की डिमांड करने लगीं। इसलिए उसने एंटी करप्शन में महिला दरोगा की शिकायत कर दी।

Author: admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *