सेमिनार में मुफ़्ती अजमल शाह के जीवन पर डाली गई रौशनी

अज़ीम अब्बासी

सम्भल।मदरसा अहले सुन्नत अजमल उलूम मे तारीखी शहर सम्भल की अजीम शख्सियत मुफ्ती ए हिंद हजरत मुफ़्ती मौ. अजमल शाह कादरी रह. का 62वां उर्स मुबारक का आगााज सेमीनार से हुआ।

रविवार को मोहल्ला ठेर स्थित अजमल उल उलूम मदरसे में आयोजित दो दिवसीय उर्स के पहले दिन सेमीनार का आगाज कुराने करीम की तिलावत से हुआ। इसके बाद नाते पाक पढ़ी गई। वक्ताओं ने हज़रत अजमल उलेमा की इल्मे हदीस में माहिर होने पर रोशनी डाली कहा कि मुफ़्ती अजमल शाह साहब अपने ज़मीने के बहुत बड़े मुहद्दिस थे। मुफ़्ती साहब मौलाना नईमुद्दीन मुरादाबाद के खास शार्गिद थे। उन्होने इलमे हदीस में बहुत बड़ा रोल अदा किया। ख्वाजा कलीम अशरफ ने मक़ाला पढ़ते हुए कहा कि मुफ़्ती साहब ने बेशुमार शार्गिद पैदा किए उनका नाम इल्म की दुनिया में अदब के साथ लिया जायेगा। मुफ़्ती अजमल साहब ने हुज़ूर की फ़जीलत को नअत की शक्ल में दुनिया में फैलाया था और आपने ईसाई समुदाय के सवालों का जवाब बहुत अच्छे अदाज़ में दिया और आप आलिम ही नहीं मुफ़्ती भी थे। इस मौके पर सेमिनार की अध्यक्षता शहर मुफ़्ती कारी अलाउद्दीन तथा संचालन मुफ़्ती आलम रज़ा नूरी ने किया। सेमिनार के अंत मे सज्जादानशीन कारी तन्ज़ीम अशरफ अज़मली ने सभी मेहमानो का शुक्रिया अदा किया। इस दौरान मुफ्ती आसिफ रज़ा मिस्बाही बनारस, मुफ़्ती अशफ़ाक़, कारी वसी अशरफ, मुफ़्ती अहमद रज़ा, हाजी जफीर अहमद, सय्यद अब्दुल कादिर, फरीद अहमद एडवोकेट, मौलाना नईम, तक़ी अशरफ आदि लोग मौजूद रहे।

Author: TheBharat Times

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *