पीएम मोदी की ‘परीक्षा पे चर्चा’ पर खर्च हो गए 28 करोड़ रुपये

नई दिल्ली।शिक्षा मंत्रालय ने बताया अन्नपूर्णादेवी ने लोकसभा में प्रश्न के लिखित उत्तर में बताया कि 2018 में ‘परीक्षा पे चर्चा’ कार्यक्रम पर 3.67 करोड़ रुपये, 2019 में 4.93 करोड़ रुपये, 2020 में 5.69 करोड़ रुपये खर्च हुए ,परीक्षा पे चर्चा’ कार्यक्रम के अब तक 5 आयोजनों पर 28 करोड़ रुपये खर्च हुए हैं। केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय ने सोमवार को यह जानकारी दी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से छात्रों, अभिभावकों और शिक्षकों के साथ संवाद के मकसद से इसे आयोतित किया जाता है।

इस कार्यक्रम का छठा आयोजन बीते 27 जनवरी को दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में हुआ था। इस कार्यक्रम का पहला आयोजन 16 फरवरी, 2018 को हुआ था। विज्ञापन केंद्रीय शिक्षा राज्य मंत्री अन्नपूर्णादेवी ने लोकसभा में एक प्रश्न के लिखित उत्तर में बताया कि 2018 में ‘परीक्षा पे चर्चा’ कार्यक्रम पर 3.67 करोड़ रुपये, 2019 में 4.93 करोड़ रुपये, 2020 में 5.69 करोड़ रुपये, 2021 में 6 करोड़ रुपयेऔर 2022 में 8.61 करोड़ रुपये खर्च हुए। मंत्री के जवाब मेंइस साल के आयोजन पर खर्च का ब्योरा नहीं है। मालूम हो कि कोरोना वायरस महामारी के चलते साल 2021 में इस कार्यक्रम का आयोजन वर्चुअल तौर पर हुआ था। इस बार रिकॉर्ड 38 लाख छात्रों ने कराया रजिस्ट्रेशन ‘परीक्षा पे चर्चा’ में भाग लेने के लिए इस वर्ष रिकॉर्ड 38 लाख छात्रों ने रजिस्ट्रेशन कराया। केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान के अनुसार, छात्रों का पंजीकरण पिछले साल की तुलना में कम से कम 15 लाख अधिक रहा। आयोजन के दौरान छात्रों के सवालों का जवाब देते हुए मोदी ने कहा कि छात्रों को अपने काम पर ध्यान केंद्रित करने की कोशिश करनी चाहिए। इसके अलावा मोदी ने परीक्षाओं में अनुचित प्रथाओं के इस्तेमाल के खिलाफ भी दृढ़ता से बात की।

Author: TheBharat Times

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *