मणिकर्णिका घाट के वार्षिक कार्यक्रम में बार बालाओं ने लगाए अश्लील ठुमके,श्रद्धालु हुए निराश

पवित्र सनातन धर्म को बदनाम करने वाली तस्वीरें वाराणसी के महाश्मशान मणिकर्णिका घाट से सामने आयी हैं।जहां धर्म के ठेकेदार ये भी भूल गए कि उनकी करतूत का सनातन धर्म पर क्या असर पड़ेगा।”यूपी तक” की रिपोर्ट के मुताबिक जो तस्वीरे आप स्क्रीन पर देख रहे हैं यह किसी शादी पार्टी की नही बल्कि मणिकर्णिका घाट महाश्मशान के वार्षिकोत्सव की हैं।

जहां लोग तो उपस्थित हुए थे महाश्मशान मंदिर के वार्षिकोत्सव में, लेकिन यहां भोले नाथ की जैकारे साथ गाना बज रहा था, ले चलीं घुमावे बुलेट पर जीजा… जिस धर्म के लिए लोग एक दूसरे के दुश्मन बनते जा रहे हैं उसी धर्म को समाज के सामने कैसे परोसा जा रहा है।

https://fb.watch/jBQvlDZnYK/

इस बात का अंदाज़ा आप इसी से लगा सकते हैं कि एक तरफ गम में डूबे अपनों को आखिरी विदाई देने वाले लोग मणिकर्णिका घाट पर दहाड़ मार कर रो रहे थे तो वहीं पर दूसरी तरफ गाना बज रहा था गोरी तोहर चुनरी त लाल लाल रे। मतलब एक तरफ चैत्र नवरात्रि के सप्तमी के दिन मां कालरात्रि की उपासना करते हैं और दूसरी और अश्लीलता से नगर वधुओं से ठुमके लगवाते हैं, और ऐसे ही लोग समय समय पर धर्म के ठेकेदार बन जाते हैं और सनातन संस्कृति पर ज्ञान पशेरी के हिसाब से फेंक फेंक कर मारते हैं।

इस लिंक को टच करके देखें वीडियो

Author: TheBharat Times

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *