चलती बाईक पर हुआ विवाद तो जीजा ने साले को मार दी गोली

अलीगढ़ के थाना हरदुआगंज क्षेत्र के कस्बा जलाली में जीजा ने उस वक्त गोली कांड की वारदात को अंजाम दिया गया है। जब दोनों जीजा-साले बाइक पर सवार होकर जा रहे थे। उसी दौरान चलती हुई बाइक पर जीजा ओर साले के बीच बहन के मंगलसूत्र को लेकर कहासुनी हो गई। मंगलसूत्र को लेकर हुई कहासुनी के बाद चलती बाइक पर ही जीजा ने अवैध तमंचा निकाल कर बाइक चला रहे साले को पीछे से तड़ातड़ सिर में एक के बाद एक दो गोली मार दी। चलती बाइक पर तमंचे से धड़ाधड़ दो गोली लगते ही साला खून से लथपथ होकर सड़क पर गिर पड़ा।जिसके बाद इलाके में गोली चलने की आवाज सुनते ही लोगों की भीड़ मौके पर जुट गई ओर सूचना पुलिस को दी। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और सिर में दो गोली लगने के बाद गंभीर रूप से घायल साले को मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया। जहां डॉक्टरों की देखरेख में घायल साले का उपचार जारी है। तो वहीं साले को गोली मारने वाले जीजा दुष्यंत को पुलिस ने हिरासत में लेकर गिरफ्तार कर लिया है।वहीं जीजा-साले के बीच हुए इस गोलीकांड को लेकर पुलिस जीजा से घटना के कारणों का पता लगाने के साथ ही मामले की जांच में जुटी है।आपको बता दें कि बुलंदशहर के थाना डिबाई क्षेत्र के गांव इंदरगढ़ी निवासी दुष्यंत पुत्र इंद्रपाल यूपी के कासगंज जिले के थाना ढोलना क्षेत्र के महारावल गांव निवासी राजकुमार पुत्र नरेश दोनों जीजा-साले बाइक पर सवार होकर बुधवार को जनपद अलीगढ़ के थाना हरदुआगंज क्षेत्र के इमलानी गांव रिश्तेदारी में आए हुए थे। जिसके बाद दोनों जीजा साले बाइक पर सवार होकर थाना हरदुआगंज क्षेत्र के कस्बा जलाली की तरफ जा रहे थे। बताया जा रहा है कि साला राजकुमार बाइक चला रहा था। जबकि बुलंदशहर निवासी उसका जीजा दुष्यंत बाइक पर पीछे बैठा हुआ था। तभी चलती बाइक पर बहन के मंगलसूत्र को लेकर जीजा ओर साले के बीच कहासुनी हो गई। चलती बाइक पर बहन के मंगलसूत्र को लेकर जीजा-साले के बीच हुई कहासुनी में जीजा आक्रोशित हो गया और उसको मंगलसूत्र की बात नागवार गुजर गई। जिसके बाद उसने भटोला गांव के स्थित माइनर पर बाइक पहुंचते ही अवैध तमंचा निकालकर बाइक चला रहे साले राजकुमार के सिर में एक के बाद एक दो गोली मार दी। जीजा द्वारा सिर में मारी गई दो गोली लगते ही साला खून से लथपथ होकर सड़क पर गिर पड़ा। इलाके में 2 गोली चलने की आवाज सुनते ही ग्रामीणों में दहशत फैल गई जिसके बाद सैकड़ों की तादाद में ग्रामीण जोड़कर घटनास्थल पर पहुंच गए तो देखा गोली लगने के बाद युवक जमीन पर पड़ा हुआ था जिसकी सूचना मौके पर पहुंचे लोगों द्वारा थाना हरदुआगंज पुलिस को दी गई सूचना मिलते ही थाना अध्यक्ष भारी पुलिस फोर्स के साथ मौके पर पहुंच गए और लोगों की मदद से खून से लथपथ जमीन पर पड़े घायल युवक राजकुमार को आनन-फानन में एएमयू के जवाहरलाल नेहरू मेडिकल कॉलेज में उपचार हेतु भर्ती कराया गया। जिसके बाद लोगों द्वारा घायल के पास से मिले मोबाइल नंबर के आधार पर उसके साथ हुई घटना की सूचना कासगंज फोन कर परिवार के लोगों को दी गई। गोली मारे जाने की सूचना मिलते ही घायल का भाई सोनू सहित परिवार के लोगों में चीख-पुकार मच गई और कुछ ही घंटे में घायल के परिवार के लोग भी मेडिकल कॉलेज पहुंच गए। मौके पर पहुंचे परिवार के लोगों द्वारा बताया गया कि उनको एक्सीडेंट की सूचना दी गई ओर उसे कहा कि मेडिकल कॉलेज पहुंच जाओ। जब परिवार के लोग मेडिकल कॉलेज पहुंचे तो पता चला कि उसके भाई को उसी के जीजा ने गोली मार दी है और वह खून से लथपथ अस्पताल के बिस्तर पर पड़ा हुआ था।

Author: TheBharat Times

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *