आख़िर ऐसा क्या हुआ कि तेंदुए को छोड़ने गयी टीम को करना पड़ा अस्पताल में भर्ती

अलीगढ़ के जवां से पकड़े गए तेंदुए को उत्तराखंड के बोर्डर पर स्थित शिवालिक के जंगल में छोड़ने गई टीम दुर्घटना का शिकार हो गई। वाहन पलटने से टीम के सदस्यों को मामूली चोटें आईं हैं। प्रभागीय वन अधिकारी दिवाकर कुमार वशिष्ठ ने बताया कि जवां से पकड़े गए तेंदुआ को वन विभाग की टीम रविवार को उत्तराखंड के बोर्डर पर स्थित सहारनपु के शिवालिक के जंगल में छोड़ने गई। तेंदुए को छोड़ने के बाद टीम रात को वापस लौट रही थी। रात्रि 9.30 बजे के लगभग फतहपुर थाना के अंतर्गत बिहारीगढ़ के पास तालेवाला पर वोल्वो वाहन ने टीम की बोलेरो में टक्कर मार दी। रास्ते में टीम का एक वाहन पलट गया। गाड़ी ने तीन बार पलटी। जिससे टीम के सदस्यों को मामूली चोटें आईं हैं। सूचना पर एक नई टीम 2 एएस मौके पर भेजी गई। मुजफ्फरनगर और सहारनपुर से भी टीमें पहुंचीं हैं। आर ओ मोहन मौके पर पहुंच गए हैं। टीम के सदस्य अब्दुल शमी अंसारी रेंज अधिकारी, धर्मेंद्र सिंह वन दरोगा, दीपक यादव और हेमेंद्र सिंह वन रक्षक सुरक्षित बताए जा रहे हैं।

Author: TheBharat Times

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *